कांग्रेस की विकास व उत्तराखंड विरोधी मानसिकताः भट्ट

Spread the love

देहरादून,।देवभूमि खबर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कांग्रेस के राष्ट्रीय नेताओ से लेकर प्रदेश के नेताओं तक प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा केदारनाथ धाम में बड़े स्तर पर विकास कार्यों की शुरुआत करने की आलोचना किये जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इससे कांग्रेस का विकास व उत्तराखंड विरोधी चेहरा पुनः खुलकर सामने आया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में भारी पराजय के बाद कांग्रेस बुरी तरह बौखलाई हुई है।
केदारनाथ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम से लौट कर यहां एक बयान में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय भट्ट ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केदारनाथ यात्रा स्वयं में ऐतिहासिक तथा केदारनाथ धाम व उत्तराखंड के विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण सिद्ध हुई है। इस यात्रा में प्रधानमंत्री ने विभिन्न विकास कार्यों को प्रारम्भ करने के साथ जो महत्वपूर्ण घोषणाएं की उससे उत्तराखंड के विकास का नया मार्ग प्रशस्त हुआ है। इससे उत्तराखंड की जनता उत्साहित है।
भट्ट ने कहा कि प्रधानमंत्री की यात्रा को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय नेताओ से लेकर प्रदेश स्तर के नेताओं ने जिस प्रकार की प्रतिक्रियाएं दी हैं । उनसे फिर साफ हो गया है कि कांग्रेस न केवल विकास विरोधी है अपितु उत्तराखण्ड विरोधी भी है । प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने केदारनाथ के विकास के लिए जिन कार्यों का शिलान्यास किया व अन्य घोषणाएं की, उचित होता कि उत्तराखंड के हितों को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस उनका स्वागत करती। लेकिन कांग्रेस नेताओं ने जिस प्रकार की प्रतिक्रियाएं दी हैं उनसे साफ है कि वे राज्य का विकास नहीं चाहते।
भट्ट ने कहा कि उत्तराखंड निर्माण से पहले और उत्तराखंड बनने के बाद जिस तरह काँग्रेस की भूमिका रही है वह किसी से छुपी नहीं है। कांग्रेस हमेशा उत्तराखंड विरोधी रही है। उसकी उत्तराखंड विरोधी सोच आज भी बरकरार है। यह बात कांग्रेस नेताओं के बयानों से पुनः साफ हो गई है।
उन्होंने कहा कि केदारनाथ में आई आपदा के बाद जिस तरह कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं ने उस समय नरेन्द्र मोदी जो उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री थे को केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण के प्रस्ताव को नही माना और गुजरात से आई राहत सामग्री को भी नही बटने दिया वह कांग्रेस की जनविरोधी मानसिकता का प्रमाण है। इतना ही नही केन्द्र में भाजपा सरकार आने के बाद केन्द्र से मिली सहायता में भी कांग्रेस नेताओं ने भारी भ्रष्टाचार किया। अब जब श्री नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री के रूप में केदारनाथ धाम का काया कल्प करने जा रहे हैं तो कांग्रेस को फिर परेशानी हो रही है।
भट्ट ने कहा कि उचित होता कि कांग्रेस नेता अपनी गलतियों का प्रायश्चित करते । पर उनके बयानों से साफ है कि उन्हें अपने अपराधों के लिए कोई पश्चाताप नहीं है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

चुनाव आयोग पर दबाव बना रहे विपक्षी:मोदी

Spread the loveअहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने वडोदरा में जनसभा को संबोधित किया। वडोदरा में उन्होंन विपक्ष पर तीखा प्रहार किया। पीएम मोदी ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि दिवाली पर वो वडोदरा आए हैं इसे लेकर विरोधियों को पेट में दर्द हो रहा है। पीएम ने कहा […]

You May Like