मृत्यु पंजीकरण के लिए एक अक्तूबर से आधार नंबर होगा अनिवार्य

Spread the love

लोकसभा में लोजपा के एक सदस्य ने मांग की कि देश में युवाओं को एक मंच प्रदान करने के लिए और उनकी पूरी शक्ति का देश के निर्माण में योगदान के लिए राष्ट्रीय युवा आयोग का गठन किया जाना चाहिए। शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद चिराग पासवान ने कहा कि देश में आजादी के बाद से आज तक कोई युवा नीति नहीं बनाई गयी। पिछले कुछ दशकों को देखें तो राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान दे रहा युवा व्यक्तिगत चुनौतियों से जूझ रहा है।
उन्होंने कहा कि जिस तरह से देश में अनुसूचित जाति आयोग, अनुसूचित जनजाति आयोग, महिला आयोग और बाल आयोग हैं, उसी तरह एक राष्ट्रीय युवा आयोग का गठन होना चाहिए। ऐसा होने से घर छोड़कर निकलने वाले युवाओं को एक ऐसी संस्था मिलेगी जो उनके अभिभावक की भूमिका निभा सकेगी और उनकी समस्याओं का समाधान करेगी। पासवान ने कहा कि उनकी इस मांग पर सत्तापक्ष और विपक्ष सभी के सदस्यों को समर्थन करना चाहिए। आज युवा कला, संगीत, खेल एवं ऐसे ही अन्य क्षेत्रों में आगे बढ़ना चाहते हैं। ऐसे में उन्हें उचित मंच दिया जाना जरूरी है।
उन्होंने इस विषय पर सदन में नियम-193 के तहत विस्तार से चर्चा की मांग भी की। तेलगूदेशम पार्टी के सांसद राममोहन नायडू ने भी राष्ट्रीय युवा आयोग के गठन की पासवान की मांग का समर्थन किया। शून्यकाल में भाजपा के रवींद्र कुमार पांडेय ने आरोप लगाया कि बैंक शाखाएं लोगों से एक, दो और पांच रुपये के सिक्के जमा करने से इनकार करती हैं जिससे छोटे मोटे व्यापार करने वाले लोगों को बहुत परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के समय जहां बैंकों ने लाखों रुपये की रेजगारी बाजार में दी लेकिन अब ये बैंक इन सिक्कों को जमा करने से इनकार कर रहे हैं। सरकार को इस संबंध में ध्यान देना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

'लीवर' का स्वस्थ जरूरी है

Spread the loveमानव शरीर को गतिमान और स्वस्थ बनाए रखने के लिए जरूरी है कि हमारी नसों में शुद्ध और स्वच्छ रक्त दौड़े, उसमें किसी भी प्रकार का विकार हमें बीमार कर सकता है। हमारा यकृत (लीवर) रक्त की रीसाइक्लिंग करते हुए उसे स्वच्छता प्रदान करता है। पाचन क्रिया और […]

You May Like