जेल में राम रहीम को मिला माली का काम

Spread the love

रोहतक। 20 साल की सजा के फैसले के बाद डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम अब सुनारिया जेल में आठ गैंगस्टर गिरोहों के पचास से अधिक बदमाशों के बीच रहेगा। सुरक्षा कारणों से उसे बैरक की बजाय जेल की सेल में रखा जाएगा।

बैरक में 60 और सेल में तीन से पांच कैदी रखे जा सकते हैं। डेरा प्रमुख चूंकि कम पढ़ा लिखा है, इसलिए उससे लेबर वर्क (मजदूरी) कराई जाएगी। लेबर वर्क के लिए वह फिट है या नहीं, इसके लिए मेडिकल जांच हो चुकी है। खबर है कि उससे माली का काम करवाया जाएगा।

इसक अलावा जेल प्रबंधन फैक्ट्री में बढ़ई का काम, चारपाई और कुर्सी बुनने, बागवानी करने अथवा बेकरी में बिस्कुट बनाने का काम दे सकता है। काम करने के उसका ड्यूटी टाइम सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक होगा।

राम रहीम ने नौवीं तक पढ़ाई की है। डेरा प्रमुख काम करना चाहेगा या नहीं, यह उसकी मर्जी पर निर्भर करेगा। काम करने की स्थिति में किसी भी कैदी की निर्धारित सजा में छूट दिए जाने का प्रावधान है।

मंगलवार सुबह डेरा प्रमुख को जेलर के सामने पेश किया जाएगा। तभी उसे कैदी नंबर अलॉट कर दिया जाएगा। अभी तक उसका हवालाती नंबर 1997 था। हवालाती रजिस्टर और कैदी रजिस्टर अलग-अलग होते हैं। सुनारिया जेल में कैदियों की क्षमता 1400 के आसपास है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

हमने राजनीति नहीं की है बल्कि हमने विकास किया है और जो कहा है उसे पूरा किया : मोदी

Spread the love उदयपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज यहां कहा कि हमने राजनीति नहीं की है बल्कि हमने विकास किया है और जो कहा है उसे पूरा किया और आगे भी जो कहेंगे उसे पूरा करके दिखायेंगे। प्रधानमंत्री मोदी आज हल्की बारिश के बीच खेलगांव में पंद्रह हजार एक […]

You May Like