तहसील दिवस में आये फरियादियों की समस्यायें सुनी

Spread the love

हरिद्वार।  हरिद्वार तहसील में तहसील दिवस का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी दीपक रावत के निर्देशानुसार सभी विभागों के जनपदीय अधिकारी तहसील दिवस कार्यक्रम मेें उपस्थित रहे। तहसील दिवस में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में मुख्य विकास अधिकारी नितिन भदौरियाए सिटी मजिस्ट्रेट जयभारत सिंहए एचआरडीए सचिव बंशिधर तिवारए एसडीएम हरिद्वार मनीष कुमार तथा तहसीलदार सुनैना ने तहसील दिवस में आये फरियादियों की समस्यायें सुनी। तहसील दिवस में विभिन्न विभागों से सम्बंधित कुल 70 शिकायते लेकर फरियादी पहुंचे। जिलाधिकारी ने समस्यायें सुनते हुए ग्रामीण और शहरी दोनों ही क्षेत्रों में विद्यायलोंए पेयजलएविद्युत एवं गंदगी से सम्बंधित शिकायतों पर तुरन्त सुनवाई करते हुए सम्बंधित अधिकारियों को 24 घण्टे के भीतर समाधान किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने बजट के करण लम्बित बड़े मुद्दों को एक सप्ताह के भीतर एस्टीमेट तैयार कर अपने समक्ष प्रस्तुत करने के निर्देश विभागों को दियेए जिससे बजट आवंटन कर समस्याओं का निस्तारण किया जा सके। तहसील दिवस में चक रोड निर्माणए जमीनों पर अवैध कब्जोंए शहीदों के नाम पर चैराहो और सड़कों का नामकरण किये जानेए सम्पत्ति बटवारेए पट्टे आवंटनए फसल क्षतिपूर्ति आवंटनए मृतक आश्रितों के प्रमाण पत्र विवादए खेतों में सिंचाई जल की समस्याए नदियों में किये जा रहे अतिक्रमणए वोटर कार्ड में संशोधनए शिक्षा का अधिकार एक्ट के अंतर्गत निर्धारित कोटे के तहत कमजोर आय वर्ग के बच्चों के एडमिशनए छात्रवृत्ति प्रकरण से सम्बंधित कुल 70 शिकायतें जिलाधिकारी के समक्ष पहुंची जिनमें से अधिकांश का निस्तारण जिलाधिकारी ने मौके पर ही किया। जांच कराये जाने योग्य प्रकरणों पर सम्बंधित विभाग के अधिकारियों को तत्परता से जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने की हिदायत दी। आदेशों पर कार्रवाई न करने व वर्तमान मामले अगले तहसील दिवस में आने पाये जाने पर जिलाधिकारी ने सम्बंधित विभाग और अधिकारी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई किये जाने की चेतावनी दी। फेरूपुर गांव से अुनमति से अधिक खनन की शिकायत पर जिलाधिकारी ने एसडीम को जांच करने पर मामला सही पाये जाने पर उक्त के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिये। हरिद्वार जिला अस्पताल में शासकीय आवास आवंटन करने की कर्मचारी की मांग पर जिलाधिकारी ने मौके पर ही आवास आवंटन किये जाने के आदेश दिये। उन्होंने रिटायरमेंट के बाद भी आवास खाली न करने वाले कर्मचारियों के विरूद्ध कार्रवाई करते हुए आवास खाली कराये जाने के भी आदेश दिये। जिलाधिकारी ने राजस्व विभाग के कर्मचारी की पेंशन मामले की सुनवाई करते हुए निस्तारण के आदेश दिये। उन्होंने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये कि किसी भी विभाग के कर्मचारी का पेंशन का मामल लम्बित होने की शिकायतों को गम्भीरता से लिया जाये। उन्होंने कहा कि अधिकारी पेयजलए शौचालय और पेंशन तीनों मामलों को प्राथमिकता रूप से निस्तारित करें। इनमे लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। तहसील दिवस समापन के पश्चात् तहसील परिसर का भी निरीक्षण किया। उन्होंने स्टांप विक्रेताओं के यहां निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कुछ स्आंप विक्रेताओं द्वारा स्टांप स्टोक की एन्ट्री दर्ज नहीं किये जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी किया। उन्होंने तहसील परिसर के अन्दर बनाये गये सार्वजनिक शौचालय का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सार्वजनिक शौचालय की स्थिति खस्ताहाल में पाए जाने परए शौचालय की साफसफाई के निर्देश संबंधित विभाग को दिए। वहीं नए सार्वजनिक शौचालय के निर्माण के लिए एचआरडीए को निर्देशित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

जनता दरबार में पेयजल अभियंताओं को लगाई फटकार

Spread the loveधुमाकोट /तहसील में आयोजित जिलाधिकारी सुशील कुमार ने सुनी सौ से अधिक समस्याएंए ग्रामीणों की शिकायत पर प्रेस विज्ञप्ति सूचनाध्पौडीध्दिनांक 01 अगस्त 2017ए सरकार जनता के द्वार र्काक्रम के तहत जिले के दूरस्थ क्षेत्र धुमाकोट तहसील में आोजित जनता दरबार में जिलाधिकारी ने ग्रामीणों की सौ से अधिक […]

You May Like