दून पुलिस ने साइबर अपराधियों पर इनाम किया घोषित

Spread the love
देहरादून।।देवभूमि खबर। दून में एटीएम क्लोनिंग कर लोगों की लाखों रुपए निकालने वाले अपराधियों  पर पुलिस द्वारा इनाम घोषित किया गया है। देहरादून पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी अभियुक्त हाथ नहीं आये। पुलिस ने तीन अभियुक्तों(प्रत्येक) के ऊपर ढाई हजार रुपए इनाम घोषित किया है।
जनपद देहरादून में एटीएम क्लोनिंग से सम्बधित थाना नेहरूकालोनी में पंजीकृत मु0अ0स0 206/17 धारा 379/411/420/467/468/471/120बी0 भादवि तथा 65ध्66डी0 आई0टी0 एक्ट व 95 अन्य अभियोगों में वांछित चल रहे अभियुक्तों सोमवीर पुत्र राजपाल सिंह नि0 ग्राम बरहाना थाना बेरी जिला झज्जर हरियाणा, जगमोहन पुत्र देवेद्र सिंह नि0 ग्राम बादली थाना बहादुरगढ़ जिला झज्जर हरियाणा और सुनील पुत्र धर्मपाल नि0 खरावड़ थाना सांपला जिला रोहतक हरियाणा पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निवेदिता कुकरेती द्वारा 2500 रूपये (प्रत्येक) का ईनाम घोषित किया गया। पूर्व में सितंबर को उक्त अभियुक्तो के विरुद्ध न्यायालय से गिरफ्तारी वारंट तथा कुर्की के लिए 82 सीआरपीसी नोटिस प्राप्त किया गया था, जिसकी तामीली हेतु अलग-अलग टीमें बनाकर संबंधित स्थानों को रवाना की गई थी।
विदित हो की 16 जुलाई को दून में अलग-अलग इलाकों के 27 लोगों के अलग-अलग बैंकों के खातों से लाखों रुपये उड़ा द‌िए गए थे। घटना की सूचना के बाद लोगों में हडकंप मच गया था । एटीएम कार्ड का डाटा चुराकर, खातों में सेंध लगाने के शहर में अब तक के सबसे बड़े मामले में साइबर क्रिमिनल्स ने अलग-अलग बैंकों के दर्जनों खाताधारकों के लाखों रुपयों पर हाथ साफ कर दिया था। लोगों को जैसे ही सूचना मिली की उनके खाते प सेंध लगी है तो लोग पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराने पहुंचने लगे।
उस समय अंदेशा लगाया गया था कि एटीएम कार्ड क्लोनिंग के जरिए डाटा चुराकर वारदात अंजाम दी गई है। सभी खातों से कैश जयपुर स्थित अलग-अलग एटीएम से निकाले गए हैं। जिनके खातों से कैश निकाले गए हैं उनके एटीएम कार्ड उन्हीं के पास हैं। वारदात का शिकार बने सभी पीड़ित थाना नेहरू कॉलोनी, डालनवाला, रायपुर और शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के रहने वाले है। सर्वाधिक मामले स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के खाताधारकों के हैं। इसके अलावा पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक, आईडीबीआई, आईसीआईसीआई के खाताधारक भी शिकार बने हैं। पीड़ितों के मुताबिक शुक्रवार देर रात पांच लोगों ने उनके खातों से कैश निकाले जाने की सूचना नेहरू कालोनी थाना पुलिस को दी थी। पुलिस ने आदतन इसे नजरअंदाज कर दिया। शनिवार को भी कई लोग नेहरू कॉलोनी थाने में इस तरह की शिकायतें लेकर पहुंचे। खाताधारकों ने कहा कि एटीएम कार्ड उनके पास हैं, लेकिन उनके खातों से जयपुर स्थित एटीएम से कैश निकाला गया है। मोबाइल पर मैसेज आने के बाद उन्हें इसकी जानकारी मिली है। थाने में सुनवाई नहीं हुई तो कई लोग शिकायत लेकर एसएसपी कार्यालय पहुंचे। एसएसपी ने सवाल किया तो पुलिस को होश आया। एसएसपी निवेदिता कुकरेती के मुताबिक एक साथ अलग-अलग बैंकों के खातों से कैश निकालने के मामले की जांच के लिए टीम गठित कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

योगी सरकार ने स्वतंत्रता दिवस पर मदरसों के लिये जारी किये निर्देश

Spread the love लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में स्थित सभी मदरसों में आगामी स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराकर राष्ट्रगान गाने और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन करने के निर्देश दिये हैं। राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने आज यहां बताया कि देश के तमाम नागरिक होली, […]

You May Like