नशे के खिलाफ एसएसपी सदानंद दाते की पहल

Spread the love
रुद्रपुर ।देवभूमि खबर।। जनपद ऊधमसिंह नगर को नशा मुक्त बनाने एवं नशे के अवगुणों से युवा पीढ़ी को जागरूक करने के उद्देश्य से पुलिस लाइन में यूथ कॉन्क्लेव 2017 का आयोजन किया गया। इसके अलावा एसएसपी  सदानंद दाते के प्रयासों से निर्मित 16 मिनट की श्से नो टू ड्रग्स टेली फिल्म लोगों को दिखाई गई। इस दौरान नशे से मुक्त बने रहने के लिए अधिकारियों समेत विद्यार्थियों ने शपथ ली और नशे के विरुद्ध हस्ताक्षर अभियान भी चलाया।
नशा मुक्ति अभियान के इस कार्यक्रम के संयोजक जनपद के  एसएसपी डा. सदानंद दाते ने नशा मुक्ति अभियान के अंतर्गत सोमवार की सुबह से ही पुलिस लाइन में कई ज्ञानवर्धक कार्यक्रमों को कराया। कार्यक्रम में कई स्कूलों के शिक्षक अभिभावकों के अलावा छात्र छात्राओं की खासी सख्ंया में भागेदारी रही।  नशा मुक्ति अभियान को लेकर डिग्री कालेज के बच्चों ने भी बढ़ चढ़ कर प्रतिभाग किया। चार नन्हे मुन्ने बच्चों ने आकाश में गुब्बारे छोड़कर  श्यूथ कॉन्क्लेव्य 2017 का उद्घाटन किया। इस मौके पर पुलिस लाइन में विभिन्न स्कूलों के प्रतिभाग करने वाले छात्र छात्राओं ने अलग अलग स्टॉल भी लगाए। इन स्टॉलों में नशा मुक्ति से होने वाले शारीरिक, घरेलू, सामाजिक प्रतिष्ठा, आर्थिक पतन पर आधारित पोस्टर एवं बैनर लगाए गए। जिनकी वहां मौजूद सैकड़ों लोगों ने भूरि भूरि प्रशंसा की। इस मौके पर श्से नो टू ड्रग्स्य टेली फिल्म दिखाई गई। टेली फिल्म में फिल्माये गये गीत को खटीमा के कोतवाल अशोक भट्ट ने लिखे हैं। वहीं स्कूल बच्चों ने इस फिल्म को बनाने में सहयोग किया है। इस मौके पर नशा मुक्ति से संबंधित तमाम लिखे गए आलेखों को पुलिस अधिकारियों समेत आम लोगों ने खूब सराहा। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि नशे पर अगर यूथ विंग कंट्रोल कर लें तो दुर्घटनाओं पर ब्रेक लग सकेगा। आने वाली नई पीढ़ी उर्जावान होगी और अच्छे संस्कारों के साथ समाज में एक प्रेरक के रूप में दिखेगी। इस दौरान सभी छात्र छात्राओं ने नशा मुक्ति से संबंधित रंगारंग एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए। जिसकी सभी मौजूद लोगों ने कंठमुक्त प्रंशसा की। अभियान के दौरान सैकड़ों युवाओं ने नशा मुक्त रहने के लिए शपथ ली। इस दौरान स्कूली विद्यार्थियों ने हस्ताक्षर अभियान भी चलाया। इससे पूर्व छात्र छात्राएं रैली की शक्ल में पुलिस लाइन तक पहुंची। पुलिस लाइन में इन बच्चों ने डिग्री कालेज के बच्चों के साथ रस्सा खींच समेत कई दमखम दिखाने वाली प्रतियोगिताओं में हिस्सेदारी ली। नशा मुक्ति के इस अभियान की सफलता के लिए विभिन्न स्कूलों के शिक्षिकों के अलावा एसएसपी डा. सदानंद दाते, अमर उजाला के जीएम हरीश भट्ट, दैनिक जागरण के जीएम राघवेंद्र चड्ढा एवं संपादक आशुतोष एसपी सिटी देवेंद्र पिंचा, एसपी काशीपुर जगदीश चंद्र, एसपी क्राइम कमलेश उपाध्याय, 31वीं बटालियन के सहायक सेनानायक टीडी वैला, उप सेनानायक रमेश चंद्र जोशी, सीओ सिटी स्वतंत्र सिंह, सीओ काशीपुर राजेश भट्ट, चीफ फॉरेस्ट आफीसर नरेंद्र सिंह कुंवर, कोतवाल तुषार बोरा का विशेष योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

संविधान पीठ 35-ए के खिलाफ याचिका पर कर सकती है सुनवाई: SC

Spread the loveउच्चतम न्यायालय ने आज संकेत दिए कि जम्मू-कश्मीर के नागरिकों के विशेष अधिकारों से संबंधित संविधान के अनुच्छेद 35-ए को चुनौती देने वाली याचिका पर पांच सदस्यीय संविधान पीठ सुनवाई कर सकती है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा तथा न्यायमूर्ति एएम खानविलकर की पीठ ने सुनवाई के लिये आयी याचिका […]

You May Like