आरएसएस के दिग्गज पहुंचें ग्वालियर ,लोकसभा चुनाव को लेकर हो सकती है चर्चा

Spread the love

ग्वालियर।एजेंसी।लोकसभा चुनाव से ठीक पहले मध्य प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की गतिविधियां तेज हो गई हैं। आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत सहित अन्य प्रमुख पदाधिकारी ग्वालियर पहुंच गए हैं और वे यहां पर 10 मार्च तक रहेंगे। इस दौरान देश के वर्तमान हालात और लोकसभा चुनाव पर मंथन की भी संभावना है।
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की विभिन्न स्तर के पदाधिकारियों के साथ बैठकें तो होंगी ही, साथ में तीन दिवसीय अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक भी प्रस्तावित है। संघ के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, संघ प्रमुख मोहन भागवत रविवार को ग्वालियर पहुंचे। उन्होंने विजयाराजे सिंधिया की छत्री पर पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की। इस मौके पर बीजेपी नेता और विजयाराजे सिंधिया की पुत्री यशोधरा राजे सिंधिया भी मौजूद थीं।
सूत्रों के अनुसार, सोमवार (चार मार्च) से बैठकों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। टोलियों की बैठकें छह मार्च से शुरू होंगी। केंद्रीय कार्यकारिणी इस दौरान क्षेत्रीय और प्रांतीय टोलियों से संवाद करेगी। वहीं संघ के अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक आठ मार्च को शुरू होगी, जो 10 मार्च तक चलेगी। संघ की विभिन्न बैठकों में हिस्सा लेने के लिए भागवत के अलावा सर कार्यवाह भैयाजी जोशी भी ग्वालियर पहुंच चुके हैं।
इस बैठक को राजनीतिक दृष्टि से काफी अहम माना जा रहा है। संघ से जुड़े लोगों का कहना है कि संघ सीधे तौर पर चुनाव में कोई हिस्सेदारी नहीं निभाता है, मगर वह आवश्यक दिशा-निर्देश जरूर देता है। संघ प्रमुख मोहन भागवत सहित अन्य पदाधिकारियों के ग्वालियर में प्रवास के दौरान कई राजनीतिक हस्तियां उनसे मुलाकात कर सकती हैं।
इसके साथ ही बैठकों में देश के वर्तमान परिदृश्य के अलावा चुनाव पर भी गंभीर चिंतन-मंथन की संभावना को नकारा नहीं जा सकता। संघ प्रमुख के ग्वालियर प्रवास और बैठकों को वर्तमान हालात के बीच काफी अहम माना जा रहा है, क्योंकि इन दिनों भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव बना हुआ है। भारत की वायुसेना ने अपनी क्षमता का दुनिया को अहसास कराया है।
संघ की बैठकों के लिए शिवपुरी रोड स्थित सरस्वती शिशु मंदिर के परिसर को तैयार किया जा रहा है। तीन दिवसीय प्रतिनिधि सभा में 1500 से ज्यादा प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की संभावना जताई गई है। संघ प्रमुख भागवत सेवा भारती की इमारत में ठहरे हैं। फिलहाल बीजेपी के पास राज्य से लोकसभा की 29 में से 26 सीटें हैं। संघ प्रमुख पिछले महीने इंदौर में तीन दिन का प्रवास कर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

कितने मरे ये गिनना हमारा काम नहीं, जो करना था वो हमने सफलतापूर्वक किया: वायुसेना प्रमख

Spread the loveनई दिल्ली।एजेंसी।पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर की गई एयर स्ट्राइक के बार पहली बार वायु सेना प्रमुख बी.एस धनोआ ने मीडिया से बात की। इस दौरान उन्होंने कई सवालों का जवाब देते हुआ कहा कि अभी ऑपरेशन खत्म नहीं हुआ है। एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाने […]

You May Like