बहुमंजिला पार्किंग निर्माण से क्षेत्र की जनता ने जताई खुशी

Spread the love
रुद्रप्रयाग।देवभूमि खबर।आखिरकार लम्बे अरसे के बाद नगर वासियों की वर्षों पुरानी मांग पूरी होने वाली है। जल्द ही नगर क्षेत्र के पुनाड़ गदेरे में भव्य बहुमंजिला पार्किंग का निर्माण पूरा हो जायेगा, जिसके बाद जहां शहर में लगने वाले जाम की समस्या से जनता को निजात मिलेगी, वहीं शॉपिंग कॉम्पलेक्स निर्माण से स्थानीय लोगों को रोजगार भी मिलेगा। कई मायनों में इस पार्किंग को मुख्यालय के लिए अहम माना जा रहा है, जिसका श्रेय नगर पालिका अध्यक्ष राकेश नौटियाल को जाता है।
जिला निर्माण से लेकर आज तक मुख्यालय में एक ऐसी कोई उपलब्धि नहीं है, जिसे सराहा जा सके। मुख्यालय होने के बावजूद विभागों को अलग-अलग भागांे में बांटा गया है, जिससे जनता की समस्याएं खत्म नहीं हो पा रही है। इन विभागों तक पहुंचने के लिए जनता को हर दिन परेशान होना पड़ता है। वाहनों की भी कोई व्यवस्था प्रशासन की ओर से नहीं की गई है। मुख्यालय की जनता लम्बे समय से नगर क्षेत्र के पुनाड़ गदेरे में बहुमंजिला पार्किंग की मांग करती आ रही थी। इस समस्या को उठाया तो गया, लेकिन किसी भी स्तर पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। जब वर्ष 2013 में नगर क्षेत्र की जनता ने नगर पालिका अध्यक्ष की कुर्सी राकेश नौटियाल को सौंपी तो उन्हें पार्किंग की समस्या से अवगत कराया। पार्किंग निर्माण को लेकर श्री नौटियाल ने रात-दिन संघर्ष किया, जिसके बाद डेढ़ वर्ष पूर्व केन्द्र सरकार की प्रसाद योजना के अन्तर्गत 8.33 करोड़ रूपये की स्वीकृति मिली। इसमें 6.46 करोड़ की लागत से पार्किंग का निर्माण कार्य होना है।
रुद्रप्रयाग मुख्यालय चारधाम यात्रा का मुख्य पड़ाव होने के साथ ही मंदाकिनी-अलकंनदा का पावन स्थल भी है। यहीं से केदारनाथ एवं बद्रीनाथ के लिए वाहनों का संचालन होता है। नगर क्षेत्र भरदार, धनपुर, बच्छणस्यूं एवं तल्लानागपुर क्षेत्र के दर्जनों गांवों का बाजार भी है। हर दिन विभिन्न रूटों से बड़ी संख्या में वाहन मुख्यालय पहुंचते हैं और रोजमर्रा की जरूरती चीजों को लेकर जाते हैं। ऐसे में वाहनों का दबाव बढ़ जाता है। इसके साथ ही यात्रा सीजन में बाहरी क्षेत्रों से भी बड़ी संख्या में वाहन नगर से गुजरने के साथ ही रात्रि को यात्री मुख्यालय के होटलों में विश्राम भी करते हैं, लेकिन पार्किंग की समुचित व्यवस्था न होने से यात्रियों को अपने वाहन सड़क किनारे ही खड़ा करना पड़ता है, जिससे नगर में जाम की समस्या पैदा हो जाती है। समस्या के समाधान के लिए नगर पालिका ने पूर्व में कई बार शासन को पार्किंग का प्रस्ताव भी भेजा, लेकिन स्वीकृति नहीं मिली। इसके बाद नगर पालिका अध्यक्ष राकेश नौटियाल ने वर्ष 2016 मार्च माह में पार्किंग निर्माण के लिए प्रस्ताव भेजा, जिसके बाद केन्द्र सरकार की प्रसाद योजना के तहत पार्किंग निर्माण के साथ ही अन्य कार्यों के लिए 8.33 करोड़ की स्वीकृति मिली। इसमें 6.46 करोड़ की लागत से पार्किंग का निर्माण होना है, जबकि अन्य धनराशि से हाइजनिक फूड शॉप, शौचालय, इको म्यूजियम, सूचना केन्द्र, प्रतीक्षालय, स्नानघाट, दिशा सूचक, सोलर लाइटों का कार्य होना है। उत्तर प्रदेश निर्माण निगम की ओर से पुनाड़ गदेरे पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। पार्किंग निर्माण होने के बाद शहर में वाहनों को खड़ा करने की समस्या खत्म हो जायेगी और शॉपिंग कॉम्पलेक्स के निर्माण से बेरोजगार युवाओं को रोजगार के साधन उपलब्ध होंगे। पूर्व नगर सभासद अजय सेमवाल, सभासद पंकज बुटोला, कल्पेश्वरी देवी, अजय झिंक्वाण, रूकमणी देवी ने कहा कि पालिका क्षेत्र के विकास के लिए पालिका अध्यक्ष निरंतर प्रयास कर रहे हैं। इससे पहले भी पार्किंग निर्माण की कार्रवाई की बात कही गई, लेकिन पार्किंग निर्माण नहीं हो पाया। नौटियाल ने जनता के सपनों को पूरा करके दिखाया है। पालिकाध्यक्ष नौटियाल के अथक प्रयासों से पालिका क्षेत्र का चहुमुखी विकास हुआ है।
नपा अध्यक्ष राकेश नौटियाल ने बताया कि केन्द्र सरकार की प्रसाद योजना के तहत मिली धनराशि से पुनाड़ गदेरे पर बहुमंजिला पार्किंग का निर्माण किया जा रहा है। यह कार्य जल्द ही पूरा हो जायेगा, जिसके बाद नगर क्षेत्र में चार चांद लग जायेंगे। 6.46 करोड़ की लागत से पार्किंग का निर्माण होना है, शेष धनराशि से अन्य कार्यों को किया जायेगा। पार्किंग निर्माण के बाद नगर क्षेत्र में लगने वाले जाम से भी निजात मिल जायेगी और शॉपिंग कॉम्पलेक्स बनने के बाद बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल पायेगा। कई मायनों में यह पार्किंग नगर क्षेत्र की जनता के लिए लाभकारी सिद्ध साबित होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

मुख्यमंत्री ने क्रिकेट एसोसिएशनों के पदाधिकारियों की ली बैठक

Spread the loveदेहरादून ।देवभूमि खबर। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखंड राज्य की सभी मौजूद क्रिकेट एसोसिएशनों के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में उत्तराखंड राज्य में अक्टूबर के अंतिम सप्ताह में प्रस्तावित रणजी ट्रॉफी मैच को सफलतापूर्वक संचालित करने हेतु एक कोआर्डिनेशन कमेटी […]

You May Like