भाजपा सांसदों और विधायकों की संख्या के मामले में सर्वोच्च स्थान परः अमित शाह

Spread the love

भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि देश भर में अपने 330 सांसदों और 1387 विधायकों के साथ पार्टी आज सर्वोच्च स्थान पर है तथा केन्द्र में भाजपानीत पूर्ण बहुमत की सरकार है, लेकिन हमें इससे भी आगे जाना है। शाह ने अपने तीन दिवसीय मध्यप्रदेश प्रवास के दौरान पार्टी के कोर ग्रुप के सदस्यों, प्रदेश पदाधिकारियों, सांसदों, विधायकों, जिला अध्यक्षों आदि की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हमारे पास आज केन्द्र में पूर्ण बहुमत की सरकार है। 330 सांसद और 1387 विधायक हैं। हमें आज पार्टी सर्वोच्च स्थान पर दिखायी देती है। लेकिन 2014 की विजय को भी उत्कृष्ट कार्यकर्ता सर्वोच्च नहीं मानता है। इसलिए हमें इससे बहुत आगे जाना है।’’ उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि देश में कहीं ऐसा स्थान शेष नहीं रहे जहां भाजपा का ध्वज न हो। इसके लिए संगठन को और चुस्त-दुरूस्त करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि विजय आलस्य भी प्रदान करती है और विजय भूख भी बढ़ाती है, इसलिए हमने विजय की अतृप्त कामना की है। उन्होंने कहा कि हमारा संगठन किसी चतुराई से नहीं बल्कि त्याग, तपस्या और बलिदान से आगे बढ़ा है। हमारे संगठन की नींव में चरित्र है, जिस पर यह भव्य और दिव्य इमारत खड़ी है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आज के दौर के भाजपा कार्यकर्ता अधिक सौभाग्यशाली हैं, क्योंकि पार्टी अपने सर्वोच्च स्थान पर है लेकिन हमें यह याद रखना चाहिए कि 1950 में 10 सदस्यों से शुरू हुई पार्टी को 2017 में 10 करोड़ सदस्यों वाली पार्टी बनाने की इस यात्रा में अनेक महानुभावों ने अपना जीवन समर्पित किया है।भाजपा अध्यक्ष शाह ने उपस्थित कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक और कामरूप से कच्छ तक कोई बूथ ऐसा नहीं रहे, जहां हम न हों।

उन्होंने कहा कि देश ने हमारे ऊपर बहुत भरोसा किया है, इसलिए हमें भी जनता के भरोसे पर खरा उतरना है और यह समयानुकूल कार्यपद्धति में आमूलचूल परिवर्तन से संभव होता है। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता हमारी आत्मा है, उसकी एक निर्धारित कार्य संस्कृति है जो हमारे भीतर गौरव का भाव जगाती है। ऐसे ही कार्यकर्ताओं के बलबूते जहां-जहां हमारी सरकारें है वहां हम अंत्योदय और सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की दिशा में काम कर रहे हैं। शाह ने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि यदि हम इस राष्ट्र में आमूलचूल सकारात्मक परिवर्तन देखना चाहते है तो हमें बिना थके, बिना रूके अपनी दिशा में आगे बढ़ते रहना है। हम सत्ता में 5-10 साल के लिए नहीं कम से कम 50 साल के लिए आए हैं। इसी मंशा और इस विश्वास के साथ आगे बढ़ना है कि 40-50 साल की सत्ता के माध्यम से हम इस राष्ट्र में एक व्यापक परिवर्तन खड़ा करेंगे। इस अवसर पर शाह ने मध्यप्रदेश भाजपा के पितृपुरूष स्वर्गीय कुशाभाऊ ठाकरे और प्यारेलाल खण्डेवाल का स्मरण करते हुए कहा कि यहां के कार्यकर्ता ठाकरे जी की दिशा और प्यारेलाल जी के परिश्रम से अभिसिंचित है। यही कारण है कि मध्यप्रदेश में उत्कृष्ट संगठन दिखायी देता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

डीएम ने बैंकर्सों को निर्देश दिए वे अपनी सोच को बदलें

Spread the loveरुद्रपुर।देवभूूमि खबर। जिला समन्वय समिति एवं जिला स्तरीय समीक्षा समिति की बैठक में जिलाधिकारी डा. नीरज खैरवाल ने कहा विकास से जुड़े अधिकारी व बैंकर्स आपसी तालमेल से कार्य करते हुए बेरोजगारों को स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए समय से ऋण उपलब्ध कराएं। डीएम ने अनावश्यक आवेदनों को […]

You May Like