महात्मा गांधी जयंती अहिंसा दिवस के रूप में मनाई

Spread the love

फोटो पी 8 सफाई अभियान में भाग लेते हुए अधिकारी
नैनीताल।देवभूमि खबर। विगत वर्षो की भॉति इस वर्ष भी युग पुरूष राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं लालबहादुर शास्त्री का जन्मदिन पूरे जनपद में अहिंसा दिवस के रूप में पूर्ण श्रद्धा एवं हर्ष उल्लास के साथ मनाया गया। भारत माता की जय, महात्मा गांधी अमर रहें, लाल बहादुर शास्त्री अमर रहें के उद्घोष के साथ स्कूली बच्चों द्वारा प्रभातफे निकाली गयी।
आयुक्त कुमाऊ मण्डल चन्द्रशेखर भट्ट द्वारा आयुक्त कार्यालय में तथा अपर जिलाधिकारी हरबीर सिंह द्वारा जिला कार्यालय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के चित्र का अनावरण कर माल्यापर्ण किया। इस मौके पर गांधी एवं शास्त्री के व्यक्तित्व एवं कृतितत्व पर व्याख्यान मालाएं आयोजित की गयी तथा आयोजित कार्यक्रमों में रघुपति राघव राजा राम, सबको सनमति दे भगवान रामधुन का गायन भी किया गया। इसके साथ ही सभी सरका, गैरसरका भवनों के साथ ही विद्यालयों में देश की आन-बान-शान का प्रतीक राष्ट्रीय ध्वज भी फहराया गया।
अपने सम्बोधन में आयुक्त चन्द्रशेखर भट्ट ने कहा कि महात्मा गांधी के सत्य, अहिंसा और प्रेम के आदर्श आज भी विश्व मान्य हैं। आज के भौतिक वादी एवं विकासवादी युग में यदि हम सत्य, अहिंसा और प्रेम के आदर्शों से भटकते हैं, तो निश्चय ही हमारा पतन स्वाभाविक है। हमें चाहिए कि हम महात्मा गांधी के दिखाये मानवतावादी रास्ते का अनुकरण करें और देश के साथ ही विश्व शांति एवं विकास का संकल्प लें। उन्होेनें कहा कि सादा जीवन उच्च विचार की प्रतिमूर्ति देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जिनका आज जन्मदिन है का जीवन अत्यन्त सरल और सादगी भरा था। उनके द्वारा जय जवान, जय किसान का किया गया उद्घोष आज के दौर मंे भी सामयिक है। उन्होनें कहा कि अन्नदाता के तौर पर अपना जीवन समर्पित वाले किसान हमा श्रद्धा एवं विश्वास का प्रतीक हैै। इसके साथ ही सजग भारतीय सेना ने देश की सीमाओं के साथ ही देश की आन्तिरिक सुरक्षा में जो योगदान किया है वह अविस्मरणीय है। इसके उपरान्त आयुक्त ने कमिश्न परिसर में सफाई कर सफाई अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि 2014 से प्रत्येक बुधवार को कर्मचारियों द्वारा कमिश्न कार्यालय की सफाई की जाती है।
अपर जिलाधिका हरबीर सिंह ने कहा कि युग पुरूष महात्मा गांधी ने अहिंसा के आदर्श को अपनाकर देश को ब्रिटिश हुकुमत से मुक्ति दिलाकर भारत को आजाद कराने में महान योगदान दिया। बापू ने स्वदेशी अपनाने की जो शिक्षा दी, उसे आज के जीवन में उतारने की जरूरत है। बापू द्वारा अपने लेखन के जरिये तत्कालीन समाज एवं महिलाओं के सशक्तिकरण के साथ ही अस्पृश्ता को समाज से दूर करने का कार्य किया। तल्लीताल डांठ पर गॉधी जी की मूर्ति पर नगरपालिका अध्यक्ष श्याम नारायण द्वारा माल्यापर्ण कर श्रद्धासुमन अर्पित किये। नगरपालिका द्वारा नगर के अयारपाटी, ठंडी सड़क क्षेत्र व पंतपार्क में सफाई अभियान चलाया गया। इस अवसर पर संयुक्त मजिस्ट्रेट वंदना सिंह, कोषाधिका मामूर जहां, व्यैक्तिक अधिका आयुक्त बीके तिवा, कवीन्द्र पान्डे, ईओ राहिताश शर्मा, केके बिनवाल, एचएल वर्मा, संजय सिंह खत्री, एचएस गैड़ा, एनएस रावत, मनोज जोशी, किसन लाल कौनी, केके आर्या आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

राज्य आंदोलनकारियों को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया सम्मानित

Spread the loveदेहरादून ।देवभूमि खबर।। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को शहीद स्थल रामपुर तिराहा मुजफ्फरनगर पहुंच कर उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारियों की पुण्य स्मृति में पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर क्षेत्र वासियों का आभार प्रकट करते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि रामपुर तिराहा कांड […]

You May Like