सुरेश प्रभु ने की इस्तीफे पेशकश, रेल दुर्घटनाओं की ली पूरी नैतिक जिम्मेदारी

Spread the love
रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और हाल में हुई रेल दुर्घटनाओं की पूरी नैतिक जिम्मेदारी ली। उन्होंने संकेत दिया कि उन्होंने इस्तीफे की पेशकश की थी। प्रभु ने कहा, ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण हादसों, यात्रियों के घायल होने और बेशकीमती जानों के जाने से बेहद दुखी हूं।’’ प्रभु ने ट्वीट किया, ‘‘मैं माननीय प्रधानमंत्री @ नरेंद्रमोदी से मिला और पूर्ण नैतिक जिम्मेदारी ली। माननीय प्रधानमंत्री ने मुझसे अभी इंतजार करने को कहा।’’
 उन्होंने कहा कि बतौर रेल मंत्री करीब तीन साल के दौरान उन्होंने अपना ‘‘खून-पसीना’’ रेलवे को दिया है। उन्होंने ट्वीट की एक श्रृंखला में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री के नेतृत्व में सभी क्षेत्रों में व्यवस्थित सुधारों के जरिये दो दशक से उपेक्षा झेल रहे रेलवे को उबारने की कोशिश की। जिससे सभी क्षेत्रों में अभूतपूर्व निवेश हुआ और कई मील के पत्थर स्थापित हुये।’’ पिछले पांच दिनों में एक के बाद एक हुये दो हादसों की वजह से मंत्री के इस्तीफे की मांग की जा रही है।
 इस बीच सरकार ने एयर इंडिया के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) अश्विनी लोहानी को रेलवे बोर्ड का अध्यक्ष नियुक्त करने की घोषणा की है। निवर्तमान अध्यक्ष अशोक मित्तल ने पांच दिनों के अंदर दो रेल हादसों के चलते अपने पद से इस्तीफा रेल मंत्री को सौंप दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

रोहतक और गुड़गांव की टीम का रुड़की केअल्ट्रासाउंड केंद्र पर का छापा

Spread the loveरुड़की ।देवभूमि खबर। रुड़की के बीएसएम तिराहे के समीप पर रोहतक और गुड़गांव से पहुंची (पीसीपीएनडीटी) की टीम ने क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर एक अल्ट्रासाउंड पर छापा मारकर लिंग परीक्षण कर रहे चिकित्सक को पकड़ा। चिकित्सक के साथ दो दलाल भी टीम ने अपनी गिरफ्त में लिए […]

You May Like