भोपाल गैंगरेप मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में :शिवराज सिंह

Spread the love

भोपाल। हबीबगंज इलाके में छात्रा से गैंगरेप के मामले में सीएम शिवराज सिंह ने पुलिस अधिकारियों की एक आपात बैठक बुलाई। बैठक में सीएम ने नाराजगी जताते हुए कहा कि पुलिस को ऐसे मामले में तुरंत कार्रवाई करना चाहिए। सीएम ने यह भी निर्देश दिए कि इस मामले में लापरवाही करने वाले पुलिसकर्मियों के ऊपर भी कार्रवाई हो।
बैठक में पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला सहित अन्य पुलिस अधिकारी शामिल रहे। सीएम ने घटना को लेकर वे महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था की सीमाक्षा की और अधिकारियों से फीडबैक लिया। इस मामले की सुनवाई अब फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी।
सीएम की सख्ती के बाद पुलिस ने तीन टीआई और एक सीएसपी का ट्रांसफर कर दिया है। इनमें टीआई एमपी नगर, हबीबगंज और जीआरपी शामिल हैं। वहीं एमपी नगर के सीएसपी पर गाज गिरी है। वहीं मामले की जांच के लिए हाईलेवल कमेटी का गठन किया गया है।
मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह ने घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए हैं कि इस तरह की घटना पर सख्त कदम उठाएं जाएंगे। बैठक में डीजीपी के अलावा भोपाल रेंज के आईजी योगेश चौधरी और डीआईजी संतोष सिंह मौजूद थे।
हबीबगंज पुलिस चौथे आरोपी की पहचान नहीं कर पा रही थी, जिसके बाद छात्रा को उसकी पहचान के लिए थाने बुलाया गया। जिसके बाद छात्रा शुक्रवार सुबह अपने माता-पिता के साथ वहां पहुंची। उधर चौथे आरोपी के परिजन भी थाने पहुंचे थे, उनका कहना था‍ कि घटना में वो शामिल नहीं था, उसे फंसाया जा रहा है।
गैंगरेप की घटना की रिपोर्ट लिखने में लापरवाही बरतने पर कांग्रेस नेता जीआरपी थाने का घेराव करने के लिए पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की और हंगामे के दौरान उनकी पुलिसकर्मियों से झड़प भी हुई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए औद्योगिक आस्थानों को आगे आना चाहिए:नीरज खैरवाल

Spread the loveरुद्रपुर ।देवभूमि खबर। जिलाधिकारी डा. नीरज खैरवाल ने कहा कि जिले में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए औद्योगिक आस्थानों को आगे आना चाहिए। उन्होंने उद्यमियों से आग्रह किया कि अगर वह अपनी क्षमता के अनुसार एक एक स्कूल कालेजों को गोद ले लें तो अध्ययनरत छात्रों को शिक्षा […]

You May Like