नैतिक मूल्यों के बिना शिक्षा घातक बन जाती है:सीएम

Spread the love
रुड़की ।देवभूमि खबर। कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग रूड़की (कोर) के 19वें स्थापना दिवस पर बोलते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने विद्यार्थियों का आह्वान किया कि वे ऐेसे प्रयोगों को महत्व दें जो प्रदेश की आर्थिक विषमताओं को दूर करने में सहायक हो। रावत ने विद्यार्थियों से कहा कि नैतिक मूल्यों के बिना शिक्षा घातक बन जाती है, इसलिए पुस्तकीय ज्ञान के साथ ही विद्यार्थियों में नैतिक मूल्य और कर्त्तव्य बोध का होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि मैं विद्यार्थियों से यह अपेक्षा रखता हूं कि वे यह सोच विकसित करें कि हमें केवल अपने लिए ही नहीं बल्कि अपनों के लिए भी कुछ करना है। उन्होंने कहा कि हम प्रदेश के आईएएस एवं पीसीएस अधिकारियों को प्रदेश के इंटर कॉलेजों में बच्चों को प्रोत्साहित करने हेतु भेज रहें हैं ताकि विद्यार्थी उनसे प्रेरणा लेकर आईएएस व पीसीएस जैसी परीक्षाओं में सफलता पाने के लिए प्रेरित हों। रावत ने कहा कि हर मनुष्य में कोई न कोई गुण अवश्य होता है। विद्यार्थी अपने गुणों को पहचाने व आगे बढ़ें। मुख्यमंत्री रावत ने कॉलेज में स्थापित लैब की प्रशंसा करते हुए कहा कि मैं चाहता हूं कि प्रदेश के बड़े-बड़े शहरों में चार से पाँच ऐसी लैब होनी चाहिए जहां विद्यार्थी प्रयोगात्मक कार्य कर सकें। उन्होंने कहा कि मोबाइल लैब उत्तराखण्ड के लिए उपयोगी सिद्ध होगी। उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षा की गुणवत्ता, कॉलेजों में 180 दिन पढ़ाई होने, अच्छे शोध कार्यों एवं आईएएस व पीसीएस जैसी परीक्षाओं में प्रदेश को अग्रणी लाने में विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आईएएस, पीसीएस परीक्षाओं में विद्यार्थियों द्वारा बेहतर प्रदर्शन नहीं किया जा रहा है। इसी के दृष्टिगत 01 जनवरी 2018 के बाद विद्यार्थिंयों के लिए आईएएस व पीसीएस की कोचिंग चलाई जाएंगी। इससे पूर्व मुख्यमंत्री रावत द्वारा कॉलेज प्रांगण में स्थापित 108 फीट ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का ध्वजारोहण किया गया। वहीं कॉलेज के विद्यार्थियों द्वारा किये गये सृजनात्मक कार्यों की प्रदर्शनी का फीता काटकर शुभारम्भ व निरीक्षण किया गया। रावत द्वारा विद्यार्थियों द्वारा तैयार की गयी कार में बैठकर भ्रमण भी किया गया। मुख्यमंत्री रावत द्वारा कॉलेज में शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने वाले शिक्षकों व दस व पंद्रह वर्ष का कार्यकाल पूर्ण कर चुके शिक्षकों को अलग-अलग धनराशि के चैक देकर सम्मानित किया गया। वहीं उच्च शिक्षा मंत्री धनसिंह रावत द्वारा कॉलेज के बीटेक, एमसीए एवं एमबीए के प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ वर्ष के छात्र-छात्राओं को प्रोफिसिएंसी अवार्ड से सम्मानित किया गया। यह अवार्ड विभिन्न संकायों के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले 100 से अधिक छात्रछात्राओं को दिया गया। इस अवसर पर मेयर मनोज गर्ग, विधायक कुंवर प्रणव सिंह चौंपियन, प्रदीप बत्रा, देशराज कर्णवाल व सुरेश राठौर, जिलाधिकारी दीपक रावत, एसएसपी कृष्णकुमार वीके, जिलाध्यक्ष भाजपा जयपाल सिंह चौहान, नरेश बंसल, कॉलेज के अध्यक्ष जे.सी. जैन, महानिदेशक मेजर जनरल एके चतुर्वेदी, निदेशक ओपी सोनी, कुलसचिव डॉ. अनुराग रॉय आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

किसान प्रदेश के विकास में बड़ा योगदान कर सकते हैं: सीएम

Spread the loveरुड़की ।देवभूमि खबर। रूड़की स्थित नेहरू स्टेडियम में पंडित दीनदयाल उपाध्याय सहकारी किसान कल्याण योजना के अंतर्गत आयोजित ऋण मेले में प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, सहकारिता मंत्री धन सिंह रावत एवं जनपद के विधायकगणों द्वारा हरिद्वार जनपद के 5176 किसानों को 2 प्रतिशत ब्याज दर पर […]

You May Like