गैस सलेण्डर की कीमतों में बढोत्तरी को लेकर महिला कांग्रेस ने किया प्रदर्शन

Spread the love

देहरादून।देवभूमि खबर। महानगर महिला कांगे्रस अध्यक्ष कमलेश रमन के नेतृत्व में सैकड़ों महिला कांगे्रस कार्यकर्ताओं ने केन्द्र सरकार द्वारा गैस सलैन्डर के कीमतों में भारी बढ़ोतरी किये जाने के विरोध में एस्लेहाल चैक पर केन्द्र सरकार का पुतला दहन किया। इस अवसर पर कमलेश रमन ने कहा कि भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में देश के लोगों के साथ जो वादे किये थे उनमें से कोई भी वादा पूरा नही किया है। उन्होंने मोदी सरकार को उन वादों को याद दिलाते हुए कहा कि वादे पूरे करने के बजाय मोदी सरकार लगातार महंगाई बढ़ाकर देश की जनता को चिड़ाने का काम कर रही है। उन्होेंने कहा कि अपने साढे तीन साल के कार्यकाल में केन्द्र सरकार 19 बार गैस के दामों में बढ़ोतरी कर चुकी है। जिससे कि महिलाओं के लिए अपने परिवार का भरण पोषण करना दुभर हो गया है। उन्होेंने कहा कि मोदी जी की सरकार सत्ता पर यह बोलकर काबीज हुई थी कि उनकी सरकार महिलाओं पर हो रहे अत्याचार कम करेगी तथा महंगाई पर अंकुश लगायेगी परन्तु मोदी जी की कथनी और करनी में जमीन आसमान का अन्तर दिखाई पड़ रहा है। महिलायें आज भी अपने अच्छे दिन की बाट जोह रही है। श्रीमती कमलेश रमन ने कहा कि जनता में खास कर महिलाओं में केन्द्र सरकार के इन जन विरोधी फैसलों के प्रति काफी आक्रोश है।
कमलेश रमन ने कहा कि बाजार में दाल और सब्जियांे के दाम आसमान छू रहे है ऐसे में महिलाओं के समक्ष अपने सीमित बजट में परिवार का पालन पोषण एक बड़ी समस्या बना हुआ है। इस अवसर पर प्रदेश कांगे्रस कमेटी की प्रवक्ता श्रीमती गरिमा महरा दसौनी, कमलेश रमन, चन्द्रकला नेगी, विमला मंहास, अम्बिका, सुशीला प्रधान, अनुराधा, गायत्री, कान्ता, बिमलेश, रूबीना चैधरी, सुशीला शर्मा, वंशीका, राखी शर्मा, तनु, आशा पयाल, मधु थापा, उद्वीमा, सुलेमान अली, मोहन काला, राकेश, मनोज कुमार, युनिष शेख आदि उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

डीएम ने शिखर फाॅल का निरीक्षण किया

Spread the loveदेहरादून।देवभूमि खबर। जनपद की रिस्पना को पुर्नजीवन देने की शुरूआत राज्य स्थापना दिवस समारोह के अन्तर्गत 6 नवम्बर 2017 को की जायेगी, जिसे मुख्यमंत्री द्वारा रिस्पना का उदगम स्थल एवं स्र्टाटिंग प्वांईट षिखर फाॅल मसूरी के वार्ड न0-1 शहंषाही आश्रम के समीप मकड़ेत ग्राम जो घण्टाघर से लगभग […]

You May Like