अपराधों पर अंकुश लगाने के लिये पुलिस व राजस्व विभाग पूरी मुस्तैदी के साथ कार्य करंेः डीएम

Spread the love

अल्मोड़ा।देवभूमि खबर। अपराधों पर अंकुश लगाने के लिये पुलिस विभाग व राजस्व विभाग पूरी मुस्तैदी के साथ कार्य करंे। यह निर्देश आज जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने जिला कार्यालय के सभागार में आयोजित मासिक स्टाफ बैठक के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक को निर्देश दिये कि वे दहेज हत्या और बाल अपराधें के मामलों में कमी लाये जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में कुछ हद तक अपराधों मंे कमी आई है, हमें इस क्रम को जारी रखना होगा। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं में भी कमी लायी जाय इसके लिये लोगों को सड़क दुर्घटनाओं के बारे में जागरूक किया जाय और चालान व वाहन सीज के कार्यों में भी तेजी लायी जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि गुण्डा अधिनियम के मामलों पर पैनी नजर रखी जाय ताकि अपराधियों पर अंकुश लगाया जा सके। उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक को निर्देश दिये कि रानीखेत में सीपीयू को फिर से तैनात किया जाय जिससे वहां कि जनता को टैªफिक की समस्या से निजात मिल सके।
उन्होंने सभी उपजिलाधिकारियों व तहसीलदारों को निर्देश दिये कि वाहन दुर्घटनाओं की मैजिस्ट्रीयल जाॅच के मामलों में तेजी लाये। जिलाधिकारी ने सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अपने.अपने क्षेत्रान्र्तगत सभी तहसीलांे व पटवारी चैकियों का हर 3 माह में औचक निरीक्षण करें साथ ही अभिलेखों, नक्शों, खसरा, भू.अभिलेखों व शराब की दुकानों का भी निरीक्षण करंे। उन्होंने उपजिलाधिकारियों से कहा कि वे जिस विभाग के कार्यों का भौतिक निरीक्षण करने जाय तो सम्बन्धित विभाग के तकनीकी अधिकारी को भी साथ लेकर जाय जिससे कार्य की गुणवत्ता के बारे में भी पता चल सके। जिलाधिकारी ने फौजदारीवादों व राजस्व वादों के निस्तारण में तेजी लाने के निर्देश दिये। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि समाज कल्याण विभाग द्वारा पात्रा लोगों को जो पेंशन भेजी जाती है उनका खण्ड विकास वार मिलान किया जाय कि ऐसे कितने खाते है जो आधार से लिंक नहीं हुये है। जिलाधिकारी ने ऋण वसूली में भी तेजी लाने के निर्देश देते हुये कहा कि लीड बैंक अधिकारी एक विवरण बनाकर मिलान कर लें कि कितने लोगों द्वारा ऋण जमा नहीं किया जा रहा है। राजस्व वादों में 229 बीके मामलों के निस्तारण में तेजी लाने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि बिना स्वीकृति के जिनके द्वारा सीवर के कनैक्शन जोड़े गये है उनका चालान किया जाय। जिलाधिकारी जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये कि वे गोदामों की चैंिकंग समय.समय पर किया करें साथ ही आबकारी अधिकारी को निर्देश दिये कि जहां पर प्रिन्ट रेट से अधिक धनराशि ली जा रही है उस पर भी निगाह रखे। बैठक में सम्भागीय परिवहन अधिकारी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के न आने पर जिलाधिकारी द्वारा गहरी नाराजगी व्यक्त की और कहा कि भविष्य में इस तरह की लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जिलाधिकारी ने सभी पटल सहायको को निर्देश दिये कि वे लंबित पत्रों का निस्तारण त्वरित गति से करना सुनिश्चित करेंगे इन कार्यों में लापरवाही कतई बर्दाश्त नहीं होगी। इस अवसर पर संयुत्तफ मैजिस्ट्रेट रानखेत हिमांशु खुरानाए उपजिलाधिकारी सदर विवेक रायए भिक्यिासैण गौरव चटवालए सल्ट गोपाल राम बिनवालए जैंती अवधेश कुमार सिंहए डिप्टी कलैक्टर रजा अब्बासए पुलिस उपाधीक्षक आरएस टोलियाए मुख्य प्रशासनिक अधिकारी मनोहर लालए आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, तहसीलदार अल्मोड़ा खुशबू आर्या, रानीखेत नितेश डांगर सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

हम प्रतिज्ञा करें कि अब एचआईवी के कारण किसी की भी जान न जाए:अनुप्रिया

Spread the love‘मैं न केवल भारत में एचआईवी/एड्स के कारण जीवन गवांने वाले बल्कि दुनिया भर में इसके कारण मरने वाले लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करती हूं ; आइए, हम प्रतिज्ञा करें कि अब एचआईवी के कारण किसी की भी जान न जाए। आइए, हम सभी एकजुट हों और एचआईवी […]

You May Like