कार निर्माता कंपनी कोनिगसेग की एजेरा आरएस ने एक नया रिकॉर्ड कायम किया है। दरअसल, यह कार अब दुनिया की सबसे तेज गति से चलने वाली कार बन गई है। कार की टॉप स्पीड 457 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक दर्ज की गई है।
स्वीडन की कार निर्माता कंपनी ने फ्रांस की बुगाटी को पीछे छोड़ा है। कोनिगसेग एजेरा आरएस को नेवादा के हाईवे पर दौड़ाया गया था।
एजेरा आरएस ने बुगाटी वेरोन सुपर स्पोर्ट की गति को आसानी से पीछे छोड़ दिया। कार की औसत गति 447 किलोमीटर प्रति घंटा थी। इससे पहले बुगाटी वेरोन सुपर स्पोर्ट ने साल 2010 में तकरीबन 437 किेलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़कर रिकॉर्ड बनाया था।
पहली बार में ही कोनिगसेग की यह कार 436 kmph से ज्यादा गति से दौड़ी थी। वहीं, जब कार का दोबारा टेस्ट रन किया गया तो इसकी टॉप स्पीड 457 kmph से अधिक पाई गई।
कोनिगसेग एजेरा आरएस की यह गति काफी शानदार बताई जा रही है क्योंकि यह गति कार ने हाईवे पर प्राप्त की है। एक रिपोर्ट की मानें तो जिस समय कार को हाईवे पर दौड़ाया जा रहा था, उस समय हाईवे के 11 मील रास्ते को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था।
इस रिकॉर्ड को पाने के बाद ड्राइवर निकलस लीजा ने कहा कि शुरुआत में मैं काफी नर्वस था। मुझे डर लग रहा था कि गाड़ी के टायरों के साथ कुछ भी हो सकता है। उन्होंने कहा, ‘हाईवे पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से कार दौड़ाना काफी आसान होता है लेकिन 457 kmph की रफ्तार पकड़ा वाकई काफी मुश्किल है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here