कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ

Spread the love

फोटो पी 11 कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुए मंत्री डा. हरक सिंह रावत
देहरादून।देवभूमि खबर। उत्तराखण्ड भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के सहयोग से संचालित राष्ट्रीय उद्यमिता एवं लघु व्यवसाय विकास संस्थान (निसबड) द्वारा मजदूरों की महिलाओं हेतु आयोजित महिला उद्यमिता एवं कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रदेश के श्रम मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत ने हरिद्वार रोड स्थित स्थानीय होटल मंे दीप प्रज्ज्वलित कर किया। तदुपरान्त रावत द्वारा प्रशिक्षार्थी महिलाओं द्वारा तैयार की गयी वस्तुओं की प्रदर्शनी का भी फीता काटकर शुभारम्भ एवं निरीक्षण भी किया गया।
इस अवसर पर रावत ने महिलाओं का आह्वान किया कि वें स्वरोजगार अपनाकर स्वावलम्बी बने और प्रदेश को स्वावलम्बी बनाये। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य महिलाओं के बलबूते पर बना है और इस राज्य का विकास भी महिलाओं के योगदान से ही होगा। श्री रावत ने कहा कि कोई भी सरकार प्रदेश अथवा देश के सभी नागरिकों को सरकारी नौकरी नहीं दे सकती है। क्योंकि इससे अन्य विकास कार्य बाधित होंगे। उन्होंने चीन देश का उदाहरण देते हुए कहा कि जनसंख्या बाहुल्य देश होने के बावजूद भी चीन देश विकसित देशों की श्रेणी में इसलिए है क्योंकि वहां के नागरिक छोटे-छोटे उद्योग कार्यो को महत्व देते है। उन्होंने महिलाओं से कहा कि वे दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ स्वरोजगार अपनायें और स्वावलम्बी बने। महिलाओं को स्वरोजगार स्थापित करने में सरकार पूरा सहयोग प्रदान करेंगी।
उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड मजदूरों के हित में कार्य कर रहा है। जिस हेतु बोर्ड द्वारा अनेक कल्याणकारी निर्णय लिये गये है। उन्होंने कहा कि मजदूरों की महिलाओं को बोर्ड द्वारा सिलाई मशीनें वितरित की जायेगी। मजदूरांे की महिलाओं को प्रसव हेतु
रुपये 10 हजार अनुदान, मजदूरों की दो बेटियों को विवाह हेतु रू. 51-51 हजार रूपये अनुदान, मजदूरों के बच्चों को पहली कक्षा से उच्च शिक्षा गृहण करने तक छात्रवृत्ति दी जायेगी। किसी छात्रा के एम.बी.बी.एस. में दाखिला लेने पर उसकी कुल फीस की आधी फीस का खर्च बोर्ड द्वारा वहन किया जायेगा। मिस्त्री एवं पलम्बर आदि का कार्य करने वाले मजदूरों को रू. 10 हजार तक के यन्त्र बोर्ड द्वारा मुफ्त उपलब्ध कराये जायेंगे और मजदूरों को आवास निर्माण हेतु 4 प्रतिशत ब्याज पर ऋृण उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि जो मजदूर मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ नहीं पा रहे है उनकी बीमारी के इलाज का खर्च बोर्ड वहन करेगा। मजदूरों को सोलर लाईटें एवं उज्जवला योजना के अन्तर्गत गैस सिलेण्डर मिलने पर गैस चूल्हा भी उपलब्ध कराया जायेगा।
श्री रावत द्वारा पूर्व मंे देहरादून जनपद की 2 माह का प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी 200 महिलाओं को प्रमाण पत्र भी वितरित किये गये। आगामी प्रशिक्षण में निसबड द्वारा देहरादून जनपद की 100 महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जायेगा। निसबड द्वारा प्रशिक्षण में सिलाई, कढाई, ऐपण आर्ट, पेपर ज्वैलरी, जूट बैग, कुशन, आचार एवं मुरब्बा आदि बनाना सिखाया जाता है। जिससे महिलायें स्वरोजगार शुरू कर सकती है।
कार्यक्रम में घनसाली के विधायक शक्ति लाल, महानिदेशक निसबड रजनी सेखरी सिबल, सहायक श्रमायुक्त उमेश चन्द्र राय, क्षेत्रीय निदेशक निसबड डॉ0 पूनम सिन्हा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

BJP नेता को नहीं मिला टिकट तो समर्थकों ने की जमकर तोड़फोड़

Spread the loveगुजरात चुनाव के लिए भाजपा द्वारा किए गए टिकट बंटवारे को लेकर पार्टी के कार्यकर्ता खासा नाराज हैं. शनिवार को नाराज कार्यकर्ताओं ने बीजेपी दफ्तर पर जमकर हंगामा किया और तोड़फोड़ की. भाजपा दफ्तर पर तोड़फोड़ और हंगामा करने वाले कार्यकर्ता पार्टी प्रवक्ता आई के जाडेजा के समर्थक […]

You May Like