रंजना ने हिमाद्रि इंपोरियम का विधिवत शुभारंभ किया

Spread the love
बागेश्वर ।देवभूमि खबर। जिलाधिकारी रंजना ने जिला उद्योग केंद्र परिसर मंे स्थापित हिमाद्रि इंपोरियम का विधिवत शुभारंभ किया। इस मौके पर उद्यमियों, हस्तशिल्पियों व हथकरघा कारीगरों द्वारा निर्मित उत्पादों का अवलोकन कर कहा कि हथकरघा व हस्तशिल्प में स्वरोजगार की संभावनाएं हैं तथा बाजार में भी इनकी काफी मांग है। युवा वर्ग इससे रोजगार हासिल कर सकता है। डीएम ने बंद हो चुके परंपरागत उद्योगों को पुनर्जीवित करने पर बल देते हुए कहा कि यह जिले के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। उद्योग विभाग को निर्देश दिया कि वह समय समय पर लघु उद्यमियों को प्रशिक्षण मुहैया कराएं। महाप्रबंधक उद्योग बीसी पाठक ने हिमाद्रि इंपोरियम की जानकारी दी। कहा कि हस्तशिल्प, हथकरघा क्षेत्र में सरकार युवाओं को ऋण मुहैया करा रही है। इंपोरियम में लघु उद्यमियों द्वारा निर्मित उत्पादों को बाजार मिलेगा। बाद में जिलाधिकारी ने उद्योग मित्र की बैठक में कहा कि परंपरागत उद्योगों को पुनर्जीवित करने का प्रयास किया जाएगा। इसके लिए उन्होंने उद्योग विभाग को उद्योग मित्र की कार्यशाला आयोजित कर इस संबंध मंे विचार करने का आदेश दिया। छोटे व लघु उद्यमांे को बढ़ावा देने के लिए हरसंभव सहायता देने को कहा। कहा कि कम पूंजी मंे उद्यम शुरू कर अधिक लाभ कमाएं तथा अधिक से अधिक बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराएं। उद्योग मित्र की बैठक हर तीन माह में आयोजित करने के निर्देश देते हुए कहा कि उद्यमियों को सभी विभाग हरसंभव सुविधा मुहैया कराएं। कहा कि विभाग की लापरवाही से कोई भी उद्यम बंद नहीं होना चाहिए। गरुड़ में मां भ्रामरी इंडस्ट्री के विद्युत संयोजन विच्छेद किए जाने पर नाराज जिलाधिकारी ने मामले के जांच के आदेश दिए। बैठक में उद्यमी सदन मिश्रा ने बांस पर आधारित उद्योगों को बढ़ावा देने पर बल दिया। उद्यमियों ने बैठक में अनुदान राशि बढ़ाने का सुझाव दिया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी एसएसएस पांगती, पूर्व मंत्री राम प्रसाद टम्टा, लीड बैंक अधिकारी रुद्र सिंह रावत, आरसेटी निदेशक कश्मीर साहनी, दलीप सिंह खेतवाल, जितेंद्र तिवारी, ग्रामोद्योग अधिकारी केएस कर्म्याल, थ्रीश कपूर सहित जिले के लघु उद्यमी मौजूद थे। इस मौके पर उद्यमियों को पुरस्कार हेतु कमेटी द्वारा चयनित किया गया। जिसमें हस्तशिल्प क्षेत्र में बसंत बल्लभ तिवारी ग्राम सुरकाली को खड़िया मूर्ति निर्माण में प्रथम पुरस्कार, कमला देवी नई बस्ती को कालीन निर्माण में द्वितीय, हथकरघा क्षेत्र में प्रदीप कुमार जाड़ापानी कौसानी को प्रथम, प्रेमा देवी सिमगढ़ी को द्वितीय, लघु उद्योग क्षेत्र में दलीप सिंह खेतवाल को प्रिंटिग क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रथम, नंदन सिंह गागरीगोल को द्वितीय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया। प्रथम को 6 हजार तथा द्वितीय को 4 हजार राशि का पुरस्कार दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

प्रदेश सरकार किसानों के प्रति संवेदनशील है:सुबोध उनियाल

Spread the loveभीमताल ।देवभूमि खबर। न्याय पंचायत भीमताल मे आयोजित कृषक महोत्सव रवि.2017 में प्रदेश के कृषि व उद्यान मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा इस समय पूरे प्रदेश में कृषको को जागरूक करने व कृषको की आय बढाने हेतु प्रदेश की 670 न्याय पंचायतो में कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे […]

You May Like