मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रन फॉर गुड गवर्नेन्स को झण्डी दिखाकर रवाना किया

Spread the love
देहरादून ।देवभूमि खबर। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मंगलवार को सचिवालय में राज्य स्थापना सप्ताह के अवसर पर आयोजित रन फॉर गुड गवर्नेन्स को झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि आज हम सचिवालय के लोग यहाँ पर रन फॉर गुड गवर्नेंन्स के लिए दौड़ रहे हैं। सचिवालय की परिक्रमा करके हम प्रदेश के विकास की गति का संदेश देंगे। हमें गुड गवर्नेंन्स पर ध्यान देना है। राज्य की विकास की गति तेजी से दौड़े, यह संकल्प लेकर हमें दौड़ना है। हमें सकारात्मक सोच बनानी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य 17 वर्ष पूरे करने जा रहा है। हमने रैबार कार्यक्रम से इसकी शुरूवात की है। देश के महत्वपूर्ण स्थानों पर उत्तराखण्ड के लोगों को इसमें सम्मिलित करने का प्रयास किया। उन्होंने महसूस किया कि वे लोग अपने घर आए, यही महसूस कराना रैबार कार्यक्रम का लक्ष्य था। उन्होंने कहा कि 2 नदियों अल्मोड़ा में कोसी और देहरादून में रिस्पना (ऋषिपर्णा) नदी के पुनर्जीवीकरण का कार्यक्रम शुरू किया। यदि हम अभी भी नहीं बदले तो इन नदियों का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा। हमने इसके लिए दीर्घकालिक योजना पर कार्य करना है। यह कार्य जन सहयोग से होना है। हमने तय किया है कि इस कार्य को सरकारी और सहकारी भाव किया जाना है। इसके लिए परमार्थ निकेतन ने एक करोड़ रूपए की सहायता की घोषणा की। रिस्पना के लिए ऐसी रणनीति बनानी है कि इसमें जितने भी पौधे लगेंगे, उन्हें एक दिन में लगाया जाएगा। उन्होंने आह्वान किया कि इसमें सभी लोग सम्मिलित हों, तभी यह अभियान सफल होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे आई.ए.एस. अधिकारी विद्यालयों में गए। उन्होंने विद्यालयों की स्थिति और विद्यार्थियों की स्थिति को समझा होगा। नीति निर्धारक जब सच्चाई को जानेंगे, स्थिति को समझेंगे तो उसके अनुसार नीतियाँ बना पाएंगे। इस अवसर पर मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह सहित वरिष्ठ अधिकारीगण एवं सचिवालय के सभी अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

यमुना एक्सप्रेस-वे पर चार दर्जन से अधिक गाड़ियां आपस में टकराई

Spread the loveउत्तर प्रदेश के मथुरा में आज सुबह छाए घने कोहरे के कारण यमुना एक्सप्रेस-वे पर चार दर्जन से अधिक गाड़ियां आपस में टकराती चली गईं. इससे करीब तीन दर्जन लोग घायल हो गए. इनमें से आधे दर्जन लोगों की हालत नाजुक बताई जा रही है. घायलों को मथुरा […]

You May Like