हमने राज्य आंदोलन सत्ता हासिल करने के लिए नहीं, बल्कि व्यवस्था परिवर्तन के लिए किया: भट्ट

Spread the love
हल्द्वानी ।देवभूमि खबर। उक्रांद के केंद्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट ने कहा कि हमने राज्य आंदोलन सत्ता हासिल करने के लिए नहीं, बल्कि व्यवस्था परिवर्तन के लिए किया था। 17 साल में कांग्रेस व भाजपा ने मिलकर राज्य को बदहाल स्थिति में ला खड़ा किया है। इसलिए अब उक्रांद साम, दाम, दंड, भेद जिस तरह से भी पहले राज्य को बचाएगा और फिर चलाकर दिखाएगा। भट्ट दो दिवसीय केंद्रीय कमेटी की बैठक में विमर्श व सहमति के बाद प्रेसवार्ता कर रहे थे।
काठगोदाम स्थित सर्किट हाउस में केंद्रीय कमेटी की बैठक के निष्कर्ष पर भट्ट ने कहा कि वह पलायन के मुद्दे पर गंभीर है। बावजूद इसके वर्तमान भाजपा सरकार के वायदों व हकीकत में धरती आसमान का अंतर है। पहाड़ में पंचेश्वर जैसे बड़े बांध बनाकर सैकड़ों गांवों को पलायन के लिए मजबूर किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश के 3000 से अधिक स्कूल बंद कराए जा रहे हैं। इस पर सीएम खुद भी बयान दे चुके हैं। सरकार को इस पर श्वेत पत्र लाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एवं भाजपा युवाओं के मन में जहर घोलने का काम कर रही है।
श्री भट्ट ने कहा कि उक्रांद अब युवा शक्ति को साथ लेने के लिए फिर से राज्य आंदोलन जैसी पीड़ा लेकर उनके बीच जाएगा। जिससे युवा अपने सपनों के राज्य के महत्व को समझकर फैसला ले सकें। पूर्व अध्यक्ष काशी सिंह ऐरी ने कहा कि उक्रांद कई बार टूटता बिगड़ता रहा है। अब यह बीती बात हो गई है। हमें जनता के बीच भी विश्वास कायम करना है। नए सिरे से आगे बढने के लिए पार्टी तैयार है। पदाधिकारियों को अब जन जन तक पहुंचना ही होगा।
वहीं बैठक में चंद्र नगर गैरसैंण को पूर्णकालिक स्थायी राजधानी बनाने, पंचेश्वर बांध का निर्माण बंद करने, राज्य की परिसंपत्तियों को तत्काल उत्तर प्रदेश से मुक्त कराने, पर्वतीय जनपदों में विकास प्राधिकरणों के गठन का समाप्त करने, राज्य सरकार के विभागों, निगमों, उपक्रमों व प्राधिकरणों में तैनात संविदा कर्मियों को नियमित करने, आउटसोर्स व्यवस्था खत्म करने, भूमि बंदोबस्त व चकबंदी का काम जल्द शुरू करने, राज्य में बंद होने जा रहे 3000 स्कूलों पर सरकार श्वेत पत्र जारी करने, किसानों का कर्ज तत्काल माफ करने समेत कई गंभीर  मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में पूर्व अध्यक्ष नारायण सिंह जंतवाल, पुष्पेश त्रिपाठी, त्रिवेंद्र पवार, बीडी रतूड़ी, जिलाध्यक्ष दिनेश भट्ट आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

जिलाधिकारी ने अधिकांश जनशिकायतों का मौके पर किया निराकरण

Spread the loveबागेश्वर ।देवभूमि खबर। तहसील दुगनाकुरी के दूरस्थ ग्राम जुनायल में जनसमस्याओं के त्वरित निराकरण हेतु तहसील दिवस का आयोजन किया गया। तहसील दिवस में विद्युत,पानी,सड़क, खाद्यान्न सम्बन्धी 55 शिकायतें प्राप्त हुई। जिलाधिकारी ने अधिकांश जनशिकायतों का मौके पर निराकरण करते हुए कहा कि सरकार द्वारा जनता की हर […]

You May Like