केन्द्रीय गृह मंत्री ने ‘पुलिस स्मृति दिवस’ के अवसर पर राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की

Spread the love

नई दिल्ली।केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री श्री अमित शाह ने आज ‘पुलिस स्मृति दिवस’ के अवसर पर नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय पुलिस स्मारक पर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री श्री अजय कुमार मिश्रा, श्री निशिथ प्रमाणिक और केन्द्रीय गृह सचिव सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

अपने संबोधन में श्री अमित शाह ने कहा कि आज भारत हर क्षेत्र में प्रगति कर रहा है और आजादी के 75 साल बाद हम संतोष से कह सकते हैं कि हम अपने गंतव्य की ओर निश्चित रूप से दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ और द्रुत गति से आगे बढ़ रहे हैं। श्री शाह ने कहा कि देश द्वारा हासिल की गई अनगिनत उपलब्धियों की नींव में देश के वीर जवानों का सर्वोच्च बलिदान है। उन्होंने कहा कि देशभर के पुलिस बलों और सीएपीएफ के 35000 से ज्यादा जवानों ने देश की आंतरिक सुरक्षा और सीमाओं की रक्षा करते हुए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया है। केन्द्रीय गृह मंत्री ने कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से उन सभी शहीद जवानों को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि देश की रक्षा के लिए दिया गया जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा और भारत इसी प्रकार से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ता जाएगा।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि देशभर के पुलिसबल देश की आंतरिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करते हैं और अपनी ड्यूटी निभाते हैं और इसी कारण भारत जैसा विशाल हमारा देश आज विकास के रास्ते पर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि पुलिस के कार्यों में आतंकवादियों से लेकर छोटे अपराधों का सामना करना, बड़े जनसमूह के दौरान व्यवस्था बनाए रखना और आपदा और दुर्घटनाओं के समय सबसे पहले पहुंचकर लोगों की जान बचाना शामिल है। श्री शाह ने कहा कि हाल ही में पूरी दुनिया ने कोविड महामारी का सामना किया है और भारत में इस महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में पूरे देश द्वारा किए गए सामूहिक प्रयासोंमें हमारे देश के पुलिसबलों के जवान सबसे आगे रहे हैं। श्री शाह ने कहा कि पुलिसकर्मियों ने अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों को अस्पताल पहुंचाने से लेकर पीड़ितों को हर संभव सहायता पहुंचाने और लॉकडाउन के दौरान कानून-व्यवस्था सुनिश्चित करने में अपनी जिम्मेदारियां बहुत अच्छे तरीके से निभाई हैं। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों ने अपनी चिंता किए बिना ये जिम्मेदारियां निभाईं और इन्हीं संगठित प्रयासों का परिणाम है कि आज भारत कोविड महामारी के कठिन दौर से सफलता के साथ बाहर आ गया है।

श्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में विगत वर्षों में देश के आंतरिक सुरक्षा परिदृश्य में बहुत सकारात्मक बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि पहले पूर्वोत्तर, जम्मू-कश्मीर और वामपंथी उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों से आए दिन हिंसक घटनाओं के समाचार आते थे। लेकिन पिछले 8 सालों में उत्तर पूर्व में आर्म्ड फोर्सेस स्पेशल पावर के स्थान पर वहां के युवाओं को अपने उज्जवल भविष्य के लिए स्पेशल पावर दी जा रही है। श्री शाह ने कहा कि पूर्वोत्तर में हिंसा की घटनाओं में 70% से ज्यादा कमी एक खुशहाल उत्तरपूर्व का संकेत है। इसी प्रकार जम्मू कश्मीर में भी कभी युवाओं द्वारा पत्थरबाजी हुआ करती थी लेकिन आज वही युवा पंच और सरपंच बनकर लोकतांत्रिक तरीके से जम्मू कश्मीर के विकास में योगदान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि वामपंथी उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों में भी पहले बहुत सारी हिंसक घटनाएं हुआ करती थी लेकिन आज वहां एकलव्य स्कूलों में राष्ट्रगान होता है और हर घर में तिरंगा फहराया जाता है।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश की आंतरिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने बहुत सारे प्रोएक्टिव कदम उठाए हैं और उन कदमों को नीचे तक ले जाने का काम देशभर के पुलिसबलों और सीएपीएफ ने किया है। उन्होंने कहा कि आज देश के अधिकांश हॉटस्पॉट राष्ट्रविरोधी गतिविधियों से लगभग मुक्त हो गए  हैं। श्री शाह ने कहा कि मोदी सरकार सैनिक कल्याण के लिए पूरी तरह से कटिबद्ध है। स्वास्थ्य सेवाएं, हाउसिंग सेटिस्फेक्शन रेश्यो और ड्यूटी के समय के रोस्टर को मानवीय बनाना, इन तीनों बिंदुओं पर गृह मंत्रालय ने बहुत अच्छे तरीके से काम करके निश्चित परिणाम हासिल किए हैं। उन्होंने कहा कि आयुष्मान सीएपीएफ योजना के माध्यम से मोदी सरकार ने लगभग 35 लाख कार्ड वितरित किए हैं और अब तक 20 करोड़ रूपए से अधिक की राशि का भुगतान भी किया जा चुका है। श्री शाह ने कहा कि सीएपीएफ ई-आवास पोर्टल की मदद से क्वार्टरों और पृथक पारिवारिक आवासीय सुविधाओं को सम्यक रूप से बांटने में बड़ी सहजता हुई है। उन्होंने कहा कि कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में आवास संतुष्टि दर को सरकार ने प्राथमिकता दी है जिसके परिणामस्वरूप 2014 में हाउसिंग सेटिस्फेक्शन रेश्यो 37% था जो वर्तमान में बढ़कर 48% हो गया है। इसके अलावा 31 हजार से ज्यादा आवासों का निर्माण पूरा हो चुका है, लगभग 17 हजार आवास निर्माणाधीन हैं और 15 हजार से अधिक अतिरिक्त आवासों का निर्माण प्रस्तावित है। ये सब होने के बाद हमारा आवास संतुष्टि दर 37% से बढ़कर 60% हो जाएगा। श्री शाह ने कहा एनसीसी कैडेट्स को रोजगार में प्रोत्साहन देकर पुलिसबलों में ट्रेन्ड मैन पावर उपलब्ध हो, इसके लिए मोदी सरकार ने कई कदम उठाए हैं।‘सी’,’बी’ और ‘ए’ सर्टिफिकेट के लिए 5%,3% और 2% मार्क्स का ग्रेस दिया जा रहा है।

श्री अमित शाह ने कहा कि राष्ट्रीय पुलिस स्मारक के रूप में जो अटल चट्टान हमें दिखाई देती है वो हमारे जवानों की अडिग निडरता और कर्तव्य के प्रति उनकी निष्ठा की परिचायक है। श्री शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार पुलिसबलों और सीएपीएफ के जवानों व उनके परिवारों की सुरक्षा और सुविधा के लिए कटिबद्ध है और इसी दिशा में सदैव काम करती रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आकाश तत्व जीवन का आधार : डा० संतोष यादव

Spread the love देहरादून । दून विश्वविद्यालय में आकाश तत्व की पारम्परिक, अवधारणा, विषय पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला को देव भूमि विज्ञान समिति (विज्ञान भारती उत्तराखंड ईकाई) एवं उत्तराखंड राज्य विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद यूकास्ट के सहयोग से किया गया। कार्यशाला के मुख्य अतिथि पद्मश्री श्रीमती संतोष […]

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/devbhoom/public_html/wp-includes/functions.php on line 5279

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home/devbhoom/public_html/wp-includes/functions.php on line 5279